करंट प्रवाहित तार की चपेट में आने से मौके पर ही नर हाथी की मौत..

करंट प्रवाहित तार की चपेट में आने से एक नर हाथी की मौके पर ही मृत्यु हो गई। घटना कांसाबेल वन परिक्षेत्र के केनाडांड़ पंचायत के बढ़नीझरिया सिकीपानी गांव की है। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार बीते कई दिनों से इस परिक्षेत्र में 40 हाथियों का एक बड़ा दल विचरण कर रहा है। यह दल कल केनाडांड़ पहुँचा था। स्थानीय रहवासियों के अनुसार रात भर हाथियों के चिंघाड़ने की आवाज सुनाई दे रही थी।

सुबह उठने पर ग्रामीणों की नजर सड़क किनारे मृत अवस्था में पड़े हुए हाथी के शव पर पड़ी। अनुमान लगाया जा रहा है कि बढनीझरिया गांव से गुजरे 11 केव्ही बिजली आपूर्ति लाइन से हाथी का सूढ़ सम्पर्क में आने से घटना हुई होगी। घटना की सूचना पर वन विभाग के अधिकारी घटना स्थल पर पहुँच गए है। मृत हाथी के पोस्ट मार्टम और इसे दफनाने की तैयारी शुरु हो गई है।

लगातार हो रही है घटनाएं जानकारी के लिए बता दे कि जिले में विचरण कर रहे हाथियों के दल,लगातार दुर्घटना का शिकार हो रहे है। दो दिन पूर्व ही जिले के कुनकुरी रेंज में एक चार साल का छोटा हाथी,15 फिट गहरे गड्ढे में गिर कर घायल हो गया था। इसके रीढ़ की हड्डी और कमर में आई गम्भीर चोट से यह घायल हाथी चल फिर नही पा रहा है। तीन चिकित्सको की टीम,इलाज में जुटी हुई है। इससे पहले,तपकरा रेंज में एक चा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × 1 =

Back to top button