पारिवारिक विवाद के चलते की हत्यासिख समुदाय के एक व्यक्ति ने चार बच्चों के पिता की हत्या..

इंग्लैंड में पिछले साल 2023 में सिख समुदाय के एक व्यक्ति ने चार बच्चों के पिता की हत्या कर दी थी। 25 साल के सिख व्यक्ति सहित दो लोगों को पिछले साल इंग्लैंड में चार बच्चों के पिता की हत्या करने का दोषी ठहराया गया है। ब्लोअर्स ग्रीन रोड के गुरदीप संधू और डुडले में रिचमंड रोड के हसन तसलीम ने 39 साल के टैक्सी फर्म के मैनेजर मोहम्मद हारून ज़ेब को 31 जनवरी, 2021 को दोपहर 12.30 बजे के बाद सिर में गोली मार कर मौत के घाट उतार दिया था। 

बंदूक से किया था सर पर वार

वेस्ट मिडलैंड्स पुलिस ने एक बयान में कहा कि हारून अपने घर के बाहर रुका हुआ था। जिस दौरान आरोपियों ने घटना को अंजाम दिया था। सर में गोली लगने के कारण युवक की अस्पताल में मौत हो गई। लॉफबोरो क्राउन कोर्ट में तीन महीने तक चली सुनवाई के बाद संधू और तसलीम को हत्या, जीवन को खतरे में डालने के इरादे से दोषी पाया गया। एक तीसरा आदमी, टैनफील्ड रोड का शामराज अलीको न्याय की दिशा को भटकाने में भी दोषी पाया गया।

पारिवारिक विवाद के चलते की हत्या

पुलिस ने तीनों को हिरासत में ले लिया है। कोर्ट की तारीखों के तीनों ही आरोपियों को सजा सुनाई जाएगी। यह हत्या 2018 से परिवारों के बीच चल रहे झगड़े का हिस्सा थी। माना जाता है कि हारून इस झगड़े में सक्रिय रूप से शामिल नहीं थे। लेकिन कहीं न कहीं उनकी भी भागीदारी थी। जिसके चलते उनकी हत्या कर दी गई थी। पुलिस के बयान में कहा गया है कि मोहम्मद हारून की हत्या करने का कारण अभी पता नहीम चल पाया है। पुलिस जांच में पता चला की आरोपियों ने रिवॉल्वर से कई शॉट दागे थे। जिसमें हारून की मौत हुई है।

पुलिस ने फोरेंसिक जांच का किया इस्तेमाल

लेकिन जिस हथियार से वार किया गया है उसकी बरामदगी अभी बाकी है। वेस्ट मिडलैंड्स पुलिस ने कहा कि जांच से पता चला है कि बंदूक तस्लीम के हाथों में थी जबकि संधू कार का चालक था और साजिश में शामिल था। पुलिस ने कहा कि उन्होंने तसलीम और संधू के आरोपों को साबित करने लिए हजारों घंटे सीसीटीवी देखे। फोरेंसिक जांच का इस्तेमाल किया। इसके अलावा पुलिस ने हत्या का पता लगाने के लिए सोशल मीडिया और फोन रिकॉर्ड भी खंगाले थे।

पीड़ित परिवार के सदस्यों ने पुलिस को दिया धन्यवाद

पीड़ित परिवार के सदस्यों ने अदालत के फैसले के बाद कहा कि हम पुलिस को उनके अथक परिश्रम के लिए धन्यवाद देते हैं। हत्या की जांच का नेतृत्व करने वाले डिटेक्टिव सुपरिंटेंडेंट जिम मुनरो ने कहा कि आरोपियों ने पूरे प्लान के साथ घटना को अंजाम दिया है। उन्होंने यह भी कहा कि बच्चों ने अपने पिता को हमेशा के लिए खो दिया है। कोई भी उस दर्द को कभी दूर नहीं कर सकता। हम केवल उम्मीद कर सकते हैं कि आरोपियों को मिली सजा कुछ खतरनाक लोगों को सड़कों से हटा देगी और पुलिस का चल रहा काम इस तरह की हिंसा को खत्म कर देगा। उन्होंने यह भी कहा कि हम डुडले समुदाय के आभारी हैं जिन्होंने इस जांच के दौरान हमारा समर्थन किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 + nineteen =

Back to top button